Website Estd 1999

Sayings of Sri Sri Thakur

सत्यानुसरण

 

त्यानुसरण   
 

  

तुम्हारी नज़र यदि दुसरे का केवल

"कु"- ही देखे तो तुम कभी भी

किसी को प्यार नहीं कर सकते।

जो सत नहीं देख सकता वह कभी

भी सत्‌ नहीं होता।

सत्यानुसरण

 

२९ मई, २०१६

 

 

 

 

 

 

 

तुम्हारी नज़र यदि दुसरे का केवल "कु"- ही देखे तो तुम कभी भी किसी को प्यार नहीं कर सकते। जो सत नहीं देख सकता वह कभी भी सत्‌ नहीं होता। सत्यानुसरण